02 नवंबर 2021 का करेंट अफेयर्स/Current Affairs 02.11.21

Table of Contents

02 नवंबर 2021 के शीर्ष करेंट अफेयर्स। सभी आवश्यक जानकारी के साथ नवीनतम करंट अफेयर्स तुरंत प्राप्त करें और आज के सभी करंट अफेयर्स (current affairs) को जानने वाले पहले व्यक्ति बनें 02 नवंबर 2021 के शीर्ष समाचार, प्रमुख मुद्दे, वर्तमान राष्ट्रीय समाचारों के साथ-साथ अंतर्राष्ट्रीय में महत्वपूर्ण घटनाओं का स्पष्ट स्पष्टीकरण के साथ सभी प्रासंगिक जानकारी प्राप्त करें। सभी स्तर के प्रतियोगी परीक्षाओं और साक्षात्कारों के लिए अपने आप को तैयार करें, यहां दिए गए 02 नवंबर 2021 के नवीनतम करेंट अफेयर्स (latest current affairs) का लाभ उठाएं और खुद को मजबूत करे.

created by www.saarkarinaukri.com

करंट अफेयर्स क्या है ?

अगर हम किताबों की परिभाषा के दृष्टिकोण से जाते हैं तो करंट अफेयर्स प्रसारण पत्रकारिता परिवार की ही एक शैली का रूप है। यदि वह करंट अफेयर्स की परिभाषा के बारे में बात कर रहे हैं, तो हम समाज में राजनीतिक, आर्थिक, राष्ट्रीय, अंतर्राष्ट्रीय घटनाओं और समस्याओं की बात कर रहे हैं, जिनकी अक्सर समाचार पत्रों, टेलीविजन और रेडियो पर चर्चा की जाती है। करेंट अफेयर्स का महत्व जानने के लिए यहां क्लिक करें

02 नवंबर 2021 के समसामयिक विषय

01) जम्मू-कश्मीर की टीम ने विश्व बधिर जूडो चैंपियनशिप में पहला स्थान हासिल किया

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर के दो खिलाडीओं ने विश्व बधिर जूडो चैम्पियनशिप टीम जो कि फ्रांस के पेरिस वर्साय (Paris Versailles) में 27 अक्टूबर 2021 से 30 अक्टूबर 2021 तक आयोजित की गई थी में भारत की टीम का प्रतिनिधित्व किया, टीम को कोच मिस्टर सूरज बान सिंह के तहत प्रशिक्षित किया गया है टीम का प्रतिनिधित्व राज्य स्तरीय एसोसिएशन द्वारा किया जाता है, जिसका नाम ऑल जेएंडके स्पोर्ट्स एसोसिएशन ऑफ डेफ है, जो बधिरों की अखिल भारतीय खेल परिषद से संबद्ध है। इस विश्व बधिर जूडो चैम्पियनशिप में जूडो खिलाडी रक्षिता महक ने सेमीफाइनल में दक्षिण कोरियाई टीम के खिलाडी को हराकर कांस्य पदक जीता ।
बधिरों के लिए खेल की अंतर्राष्ट्रीय समिति की स्थापना 1924 में किया गया था

02) जम्मू-कश्मीर बागवानी विभाग ने दो दिवसीय सेब महोत्सव आयोजित किया

केंद्र शासित प्रदेश कश्मीर में 28 – 29 अक्टूबर को एसकेआईसीसी श्रीनगर (SKICC Srinagar) द्वारा सेब उत्सव 2021 का आयोजन किया गया जिसका उद्घाटन प्रदेश के उपराज्यपाल श्री मनोज सिन्हा और केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर के द्वारा किया गया और इस उत्सव का उद्देश्य कश्मीर में संभावित खरीदारों और निवेशकों को आमंत्रित करना है। कश्मीर के बागवानी विभाग ने यह पुष्टि भी की कि ‘ऐप्पल फेस्टिवल 2021’ से एक सफलता मिली है क्योंकि इन दो दिनों में कई प्रदर्शकों और उपस्थित लोगों को एक साथ लाया जा सका है।
जम्मू-कश्मीर प्रदेश सरकार ने यह भी कहा कि यह उत्सव पहली बार डल झील के किनारे आयोजित किया है। प्रमुख समाचार पत्रों ने प्रकाशित किया है कि ऐसी संभावना है कि सेब उत्सव 2021 के दौरान, बड़े खरीदार और उद्यमी श्रीनगर आएंगे और सीधे उत्पादकों और कोल्ड स्टोर मालिकों से बात करेंगे इसलिए प्रदेश सरकार ने उत्सव के लिए कश्मीर के सभी जिलों के उत्पादकों को आमंत्रित किया गया है।

03) विश्व शाकाहारी दिवस 1 नवंबर को मनाया गया

विश्व शाकाहारी दिवस हर 1 नवंबर को दुनिया भर में शाकाहारी लोगों द्वारा मनाया जाने वाला एक वार्षिक कार्यक्रम है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य मनुष्यों और प्राकृतिक पर्यावरण के लिए शाकाहार के लाभों को उजागर करना है और इसके लिए दुनिया भर में बहुत से स्टालों की स्थापना और स्मारक पेड़ लगाने जैसी गतिविधियों के माध्यम से मनाया गया।

04) केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने “डेयरी सहकार” योजना की शुरुआत की

माननीय, केंद्रीय गृह मंत्री और सहकारिता मंत्री, श्री अमित शाह ने 31 अक्टूबर 2021 को आनंद, गुजरात में अमूल द्वारा आयोजित एक समारोह के दौरान “डेयरी सहकार” योजना शुरू की है। यह योजना 5000 करोड़ रुपये के कुल निवेश बजट के साथ शुरू की गई है। यह योजना एनसीडीसी (NCDC) द्वारा सहकारिता मंत्रालय के तहत “सहयोग से समृद्धि तक” के दृष्टिकोण को साकार करने के लिए लागू किया गया है। एनसीडीसी (NCDC) दूध की खरीद, गोजातीय विकास, गुणवत्ता आश्वासन, ब्रांडिंग, पैकेजिंग, परिवहन, दूध और दूध उत्पादों के भंडारण और डेयरी उत्पादों के निर्यात जैसी गतिविधियों के लिए पात्र सहकारी समितियों और सहकारी समितियों को वित्तीय सहायता प्रदान करने का कार्य करता है।

05) आजादी का अमृत महोत्सव के तहत संस्कृति मंत्रालय ने शुरू की 3 प्रतियोगिताएं

राष्ट्रीय एकता दिवस जो 31 अक्टूबर को मनाया गया, के अवसर पर संस्कृति मंत्रालय ने तीन राष्ट्रव्यापी प्रतियोगिताएं शुरू की हैं इन प्रतियोगिताओ में देशभक्ति गीत लेखन, लोरी लेखन और रंगोली बनाने जेसी तीन राष्ट्रव्यापी प्रतियोगिताएं होंगी। इन प्रतियोगिताओ की घोषणा माननीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 24 अक्टूबर, 2021 को मन की बात में की गई थी। राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर प्रतियोगिता के लिए प्रविष्टियां सार्वजनिक प्रतियोगिता के लिए खोली गईं हैं और इन प्रतियोगिताओ की घोषणा का उद्देश्य ‘जन भागीदारी’ सुनिश्चित करने के लिए प्रोत्साहित करना है।

06) भारत आधिकारिक तौर पर उत्सर्जन सूची (Emission list) का समर्थक है

भारत ने आधिकारिक तौर पर भारतीय जलवायु विशेषज्ञों द्वारा बनाई गई एक वेबसाइट का समर्थन किया है जो औद्योगिक देशों के ऐतिहासिक कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन को सूचीबद्ध करती है। कुछ प्रमुख समाचार पत्रों ने प्रकाशित किया कि भारत ने स्कॉटलैंड के ग्लासगो में 26वें संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (सीओपी) के शुरू होने से पहले ही उत्सर्जन सूची का समर्थन कर दिया था और यह भी प्रकाशित किया है कि विकसित और विकासशील देशों के उत्सर्जन के बीच असमानता को उजागर करने के उद्देश्य से यह उत्सर्जन सूची बनाई गई है।
भारत वार्षिक आधार पर कार्बन उत्सर्जन का तीसरा सबसे बड़ा उत्सर्जक है। हालांकि, यह अपने ऐतिहासिक उत्सर्जन के मामले में छठा सबसे बड़ा है। जब इसकी जनसंख्या के आकार पर विचार किया जाता है, तो यह सबसे कम प्रति व्यक्ति उत्सर्जक में से एक है।

07) शासन प्रदर्शन में अव्वल राज्यों के लिए पीएसी अध्ययन

पीएसी ने अठारह बड़े राज्यों का अध्ययन किया और 18 बड़े राज्यों में, केरल पहले स्थान पर रहा, उसके बाद तमिलनाडु और तेलंगाना शासन प्रदर्शन के मामले में शीर्ष पर रहा। 2020 की रेटिंग की तुलना में तेलंगाना ने आंध्र प्रदेश को पीछे छोड़ते हुए तीसरा स्थान हासिल किया है। रैंकिंग में गुजरात पांचवें, कर्नाटक सातवें और महाराष्ट्र 12वें स्थान पर रहा । छोटे राज्यों की बात करे तो पीएसी के अध्ययन के अनुसार सिक्किम, गोवा और मिजोरम विजेता रहे और पुडुचेरी, जम्मू और कश्मीर और चंडीगढ़ केंद्र शासित प्रदेशों में अव्वल रहे। जैसा कि अध्ययन में कहा गया है कि सार्वजनिक मामलों के सूचकांक (पीएआई 2021) में राज्यों द्वारा इक्विटी, विकास और स्थिरता के स्तंभों पर शासन के प्रदर्शन में राज्यों द्वारा प्राप्त अंकों के आधार पर सूची तैयार की गई है।

08) ब्रिक्स (BRICS) संयुक्त सांख्यिकीय प्रकाशन जारी किया गया

ब्रिक्स देशों के राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालयों की 13वीं आभासी रूप से बैठक 28 अक्टूबर को हुई। भारत के मुख्य सांख्यिकीविद् और सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय के सचिव जी पी सामंत ने बैठक की अध्यक्षता की। बैठक का विषय सतत विकास लक्ष्यों एसडीजी की निगरानी में एनएसओ के प्रयास थे। एनएसओ के प्रमुखों ने साक्ष्य-आधारित निर्णय लेने में नीति निर्माताओं का समर्थन करने के लिए डेटा अंतराल को पाटने के लिए नियमित आधार पर सहयोग और सर्वोत्तम प्रथाओं के आदान-प्रदान के महत्व को स्वीकार किया।

09) DRDO, भारतीय वायु सेना ने संयुक्त रूप से लंबी दूरी की बम लड़ाई का सफल परीक्षण किया

भारतीय वायु सेना (IAF) की एक टीम और रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) ने संयुक्त रूप से ओडिशा में बालासोर (उत्तरी ओडिशा का सबसे बड़ा शहर) के ऊपर एक लड़ाकू जेट से देश के पहले स्वदेशी रूप से विकसित लंबी दूरी के बम (LRB) का सफलतापूर्वक परीक्षण किया। यह लंबी दूरी का बम (LRB) 50 से 150 किमी की सीमा वाले हथियारों के वर्ग का हिस्सा लेगा । सभी प्रमुख समाचार पत्रों ने प्रकाशित किया कि आईएएफ के एक लड़ाकू विमान से एलआर बम को दागने के बाद, जिसे निर्दिष्ट सीमा के भीतर सटीकता के साथ लंबी दूरी पर भूमि-आधारित लक्ष्य के लिए निर्देशित किया गया था और यह परीक्षण सफलतापूर्वक मिशन ने सभी उद्देश्यों को पूरा किया है। उड़ीसा में एकीकृत परीक्षण रेंज, चांदीपुर द्वारा तैनात इलेक्ट्रो ऑप्टिकल ट्रैकिंग सिस्टम (ईओटीएस), टेलीमेट्री और रडार सहित कई रेंज सेंसर द्वारा बम की उड़ान और प्रदर्शन की निगरानी की गई थी।LR बम को अन्य DRDO प्रयोगशालाओं के समन्वय में हैदराबाद स्थित DRDO प्रयोगशाला, रिसर्च सेंटर इमारत (Research Centre Imarat) (RCI) द्वारा डिजाइन और विकसित किया गया है।

10) भारतीय तटरक्षक जहाज ‘सार्थक’ का शुभारंभ

राष्ट्र की समुद्री सीमा सुरक्षा तथा देश की सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए गोवा में भारतीय तटरक्षक बल के महानिदेशक के नटराजन द्वारा स्वदेश निर्मित भारतीय तटरक्षक जहाज ‘सार्थक’ को राष्ट्र को समर्पित किया गया। सार्थक एक अपतटीय गश्ती पोत (ओपीवी) (Offshore Patrol Vessels (OPV)) है और यह गश्ती पोत पांच ओपीवी की श्रृंखला में से चौथा है। इसे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के ‘मेक इन इंडिया’ के दृष्टिकोण के अनुरूप मैसर्स गोवा शिपयार्ड लिमिटेड (जीएसएल) द्वारा स्वदेशी रूप से डिजाइन और निर्मित किया गया है। जहाज अत्याधुनिक नेविगेशन और संचार उपकरण, सेंसर और मशीनरी से सुसज्जित है और जहाज में दो 9100 किलोवाट डीजल इंजन द्वारा संचालित होता है साथ-साथ जहाज को दो इंजन वाले हेलीकॉप्टर, चार उच्च गति वाली नौकाओं और एक तेज गति से चलने वाली नाव और खोज और बचाव कार्यों के लिए एक inflatable नाव को ले जाने के लिए डिज़ाइन किया गया है। जहाज समुद्र में तेल रिसाव प्रदूषण प्रतिक्रिया करने के लिए सीमित प्रदूषण प्रतिक्रिया उपकरण ले जाने में भी सक्षम है।

नवंबर 2021 महीने की अन्य तिथियों के करेंट अफेयर्स जानने के लिए यहां क्लिक करें

वर्ष 2021 के अन्य महीनों के करेंट अफेयर्स जानने के लिए यहां क्लिक करें

मुझे उम्मीद है कि ये जानकारी निश्चित रूप से आपको अपने ज्ञान को तेज करने में मदद करेगी और प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी में भी मदद करेगी। कृपया टिप्पणी करें।
आपको ढेरों शुभकामनाएं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *